ads

Breaking News

जानिए वो काम जो दुनिया सिर्फ भारतीय मुसलमान ही कर सकते हैं

जानिए किया भारत में मुसलमान आजाद हैं- 


दोस्तों हमारा प्यारा भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है। यहां हर धर्म के लोग हंसी-खुशी रहते हैं साथ ही भारत सदियों से सभी धर्मों के लोगों को समान समझकर एक साथ लेकर आगे बढ़ रहा है। आज हम आपको इस आर्टिकल में उन चीजों के बारे में बताएंगे जो सिर्फ भारतीय मुसलमान ही कर सकते हैं जी हां सिर्फ भारतीय मुसलमान।


पड़ोसी देश पाकिस्तान के मीडिया और राजनेता आए दिन भारत पर आरोप लगाते हैं कि भारत में मुसलमानों की हालत काफी खराब है। लेकिन वो लोग यह भूल जाते हैं कि उनके वहां हिंदुओं की हालत जो एक समय में 22% हुआ करती थी वह अब घट कर सिर्फ 0.2 प्रतिशत तक पहुंच चुकी है।


जान लीजिए भारतीय मुसलमानों की पावर

1-

दोस्तों भारत में मुसलमानों को अपने त्यौहार मनाने पर कोई पाबंदी नहीं है। भारत में रमजान के समय में मुसलमान 30 दिन का रोजा रखते हैं जिनकी यहां पर कोई मनाही नहीं है। लेकिन बात चीन की करें तो हालत कुछ अलग है। चीन में सरकारी नौकरी करने वाले मुसलमानों को रमजान के मौके पर रोजा रखने पर भी पाबंदी है।

2-
बात जब मुस्लिम महिलाओं की अधिकार की आती है तब भी भारत की निष्पक्षता विश्व में स्पष्ट रूप में दिखाई देती है। भारत में मुस्लिम महिलाओं को मुस्लिम पुरुषों के तुलना में समान अधिकार प्राप्त है। मसलन शिक्षा, नौकरी, अपनी इच्छा अनुसार जीने का अधिकार।

भारत में हर मुस्लिम महिला को अपनी धार्मिक मान्यताओं के अनुसार अपना पहनावा चेंज करने का अधिकार है। लेकिन विश्व में कई ऐसे देश भी हैं जहां मुस्लिम महिलाओं को आजादी से जीने भी नहीं दिया जाता साथ ही कई देशों में मुस्लिम महिलाओं के कपड़े चर्चा का विषय बने रहते हैं।

भारत में असली जलपरी को पकड़ने की 5 चुकाने वाली घटनाएं

चीन में मुसलमानों की हालत जानकर हैरानी होगी आपको- 

Video-


3-

हज मुसलमानों के लिए बहुत बड़ा धार्मिक स्थल है जो सऊदी अरब में स्थित है। भारत में कई ऐसे मुस्लिम परिवार हैं जो आर्थिक रूप से काफी कमजोर हैं। लिहाजा भारत सरकार ऐसे मुसलमानों को हज की सब्सिडी के रूप में अभी तक आर्थिक मदद देती आई है।


4-

दोस्तों भारत एक ऐसा देश है जो किसी भी व्यक्ति के धार्मिक मान्यताओं में दखल नहीं देता। यहां पासपोर्ट आवेदन करने के लिए वह बिल्कुल भी मायने नहीं रखता है कि आप मुसलमान हैं, हिंदू हैं या किसी अन्य धर्म से ताल्लुक रखते हैं। लेकिन कई देशों में मुसलमानों को हिंदुस्तान जैसी स्वतंत्रता प्राप्त नहीं है। कई देशों में जब तक आप यह साबित नहीं कर देते कि आप अपने धार्मिक विश्वासों के साथ कितनी निष्ठा रखते हैं तब तक आपका पासपोर्ट जारी नहीं किया जाता। उदाहरण के तौर पर पड़ोसी देश पाकिस्तान की बात करें तो पाकिस्तान में आपको असली मुसलमान होने का प्रमाण देना पड़ता है। मसलन आप पैगंबर साहब के ऊपर कितना विश्वास रखते हैं आदि।


5-
भारतीय मुसलमानों को पूरी आजादी दी गई है कि वह किसी भी देश में घूमने, पढ़ने और व्यापार करने जा सकते हैं। भारतीय मुसलमान किसी भी देश की यात्रा करने के लिए स्वतंत्र हैं और भारतीय होने के कारण उनको आसानी से किसी भी देश का वीजा मिल जाता है। लेकिन सभी देशों के मुसलमान इतने भाग्यशाली नहीं होते हैं। जैसे सीरिया, लीबिया, ईरान और यमन देश के मुसलमानों पर अमेरिका सहित कई देशों ने उनके देश आने पर प्रतिबंध लगा रखा है।

Video-
MORE ARTICLE FROM THE WEB-

1-इन 10 योगासनों को रोजाना कर के बाल झड़ने की समस्या को जड़ से खत्म करें

1 comment: