ads

Breaking News

वायु प्रदूषण से बढ़ रहा है फेफड़े का कैंसर, जान लीजिए फेफड़े कैंसर का लक्षण और ऐसे करें उपचार

वायु प्रदूषण से बढ़ रहा है फेफड़े का कैंसर, जान लीजिए फेफड़े कैंसर का लक्षण और ऐसे करें उपचार

जो लोग धूम्रपान करते हैं उन लोगों को कई लोग सलाह देते होंगे कि धूम्रपान छोड़ दो नहीं तो कैंसर हो सकता है। चिकित्सक भी कहते हैं अधिक मात्रा में धूम्रपान से कैंसर की बीमारी हो सकती है। लेकिन हाल के दिनों में कैंसर होने का वजह धूम्रपान से ज्यादा वायु प्रदूषण हो गया है। क्योंकि एक आकलन में पता चला है कि फेफड़े का कैंसर 40% ऐसे लोगों को हुआ है जो लोग धूम्रपान नहीं करते।

क्यों होता है फेफड़े का कैंसर-

आपको बता दें मार्च 2012 से 1 जून 2018 तक पटना के कुछ चिकित्सकों ने एक शोध किया। शोध में 150 मरीजों को शामिल किया गया था। शोध में जो नतीजे सामने निकल कर आए वह काफी चौका देने वाले थे। क्योंकि नतीजों के अनुसार कैंसर की शिकार बिना धूम्रपान करने वाले लोग भी हो रहे हैं।

मशहूर कैंसर सर्जन और कैंसर विशेषज्ञ डॉ. वी़ पी़ सिंह ने सर्वेक्षण के आधार पर कहा था कि इस शोध में तकरीबन 20 प्रतिशत मरीज ऐसे थे, जो धूम्रपान नहीं करते थे. 50 वर्ष से कम उम्र समूह में यह आंकड़ा तो 30 प्रतिशत तक पहुंचा. ये लोग जिंदगी में कभी धूम्रपान नहीं किए थे।

विशेषज्ञ डॉ. वी़ पी़ सिंह का भी कहना था कि फेफड़ों से जुड़े कैंसर का सबसे बड़ा कारण धूम्रपान होता है. धूम्रपान से होने वाले इस कैंसर के बारे में लोगों को जागरूक किया जा रहा है। जैसे कि आपने देखा होगा हर फिल्म के पहले धूम्रपान से जुड़ी एक विज्ञापन चलाया जाता है। विज्ञापन में धूम्रपान ना करने की सलाह दी जाती है। इस तरह हर सिगरेट फेंक में धूम्रपान हानिकारक है लिखा होता है। इसके बावजूद वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन (डब्लूएचओ) की एक रिपोर्ट के मुताबिक 76 लाख से ज्यादा लोगो की हर साल इस बीमारी के चलते मौत हो जाती है।

आपको बता दें डॉ. सिंह ने कहा कि फेफड़े के कैंसर से ना सिर्फ धूम्रपान करने वाले बल्कि जिंदगी में कभी धूम्रपान न करने वाले युवक-युवतियां भी बड़े पैमाने पर जूझ रहे हैं और इसका मुख्य कारण बढ़ते वायु प्रदूषण ही है।
ये है दुनिया के 3 सबसे खतरनाक रेलवे ट्रैक

फेफड़े कैंसर का लक्षण-

आपको बता दें फेफड़े के कैंसर को बड़े ही आसानी से घर पर भी पहचाना जा सकता है। इसे पहचाना उतना ही मुश्किल नहीं है जितना आम लोग समझते हैं। फेफड़े कैंसर की शुरुआती लक्षण छाती में दर्द होना, छोटी सांसें लेना और कफ की समस्या रहना, काफी दिनों तक चेहरे और गर्दन पर सूजन रहना, जल्दी थकान आना, सिरदर्द, हड्डियों में दर्द और वजन कम होना इए सब फेफड़े कैंसर के मुख्य लक्षण है।

फेफड़े कैंसर हो जाए तो क्या करें-

सबसे पहले यदि आपको ऊपर बताई गई समस्या काफी दिनों से हो रहा है तो आप पहले डॉक्टर से संपर्क करें और कैंसर से बचने के लिए पीड़ित व्यक्ति को सिगरेट के धुएं से बचना चाहिए नियमित योगा और व्यायाम करना चाहिए. पौष्टिक आहार नियमित खाए साथ ही फल और सब्जियां ज्यादा खाए तो अच्छा होगा।
महाभारत की सबसे खूबसूरत रानी, खूबसूरती देखकर राजा हो जाते थे मोहित

No comments